Amazon, Flipkart पर आज से कुछ शर्तो के तहत फ़ोन, लैपटॉप और दूसरे सामानों की बिक्री शुरू

COVID 19 यानि की कोरोना वायरस के संक्रमण की बढती गति को देखते हुए राज्य सरकारों के सुझाव के साथ केंद्र सरकार ने लॉकडाउन को 4 मई से 17 मई तक के लिए तीसरी बार बढ़ा दिया है। इस बार सरकारों ने देश के सभी जिलो को ग्रीन, ऑरेंज, और रेड जोन में विभाजित किया है। इसी के साथ ग्रीन और ऑरेंज जोन में केंद्र सरकार ने कई सारी रियायतें भी दी हैं।

रेड जोन में सिर्फ जरूरी सामान

केंद्र सरकार ने ई-कॉमर्स कंपनियों को भी छूट दी है कि वे अब इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसे जैसे स्मार्टफोन, लैपटॉप और दूसरे सामान को बेच पाएंगे। लॉकडाउन के चलते इंडियन स्मार्टफोन मार्केट में अप्रैल महीने में स्मार्टफोन की बिक्री शून्य रही। तीसरे लॉकडाउन में मिली छूट के बाद स्मार्टफोन मेकर कंपनियों को आशा है कि फोन बेच पाएंगे। तो जानते है की आप कैसे अब दोबारा शॉपिंग शुरू कर पाएंगे:

ग्रीन और ऑरेंज जोन ने डिलीवरी शुरू

लॉकडाउन के चलते सिर्फ जरूरी सामान को बेचने की अनुमति के चलते ऑनलाइन शॉपिंग कंपनियों Amzon, Flipkart ने अपने प्लेटफॉर्म पर इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेज की बिक्री पर रोक लगा थी। इस दौरान ई-कॉमर्स कंपनियां सिर्फ जरूरी सामान की डिलिवरी कर रही थीं और स्मार्टफोन, लैपटॉप और दूसरे डिवाइसेज की बिक्री बंद कर दी थी।

ऑनलाइन शॉपिंग कंपनियों को गैर-जरूरी सामान की डिलीवरी केवल ग्रीन और ऑरेंज जोन में कर पाएंगे। इसके साथ ही ऑनलाइन शॉपिंग कंपनियां रेड जोन में अभी भी सिर्फ जरूरत की चीजें भी बेच पाएंगे। यानी आज से शुरू हो रहे तीसरे लॉकडाउन में ऐसे लोग जो ग्रीन और ऑरेंज जोन में रह रहे हैं वे ई-कॉमर्स पोर्टल से इलेक्ट्रॉनिक्स से लेकर सभी तरह की जरूरत का सामान खरीद पाएंगे।

रेड जोन में सिर्फ जरूरी सामान

ई-कॉमर्स को मिली छूट के साथ ही सरकार ने तीसरे लॉकडाउन में पोस्टल और कोरियर सर्विस को भी छूट देने का ऐलानन किया है। ई-कॉमर्स कंपनियों को गैर – जरुरी सामान बेचने की अनुमति मिलने के बाद ऐसे लोगों को जरूर राहत मिली है जो नया स्मार्टफोन या लैपटॉप खरीदने के लिए इंतजार कर रहे थे। बता दें सरकार ने मार्च महीने के अंत से ई-कॉमर्स कंपनियों को सिर्फ जरूरत का सामान डिलिवर करने के आदेश दिए थे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *