तूफ़ान मूवी रिव्यु: फरहान अख्तर और परेश रावल की एक्टिंग से कमज़ोर कहानी भी लगेगी अच्छी, 3.5/5 स्टार

इंडियन सिनेमा में हमेशा से ही स्पोर्ट्स से जुडी फिल्मों से काफी उम्मीद रखी जाती है फिर चाहे वो एक बायोपिक या तूफ़ान जैसी एक काल्पनिक कथा। भाग मिल्खा भाग के डायरेक्टर राकेश ओमप्रकाश मेहरा जी ने एक बार फिर एक खिलाडी के ऊपर मूवी निर्देशित की है  जो बॉक्सिंग पर आधारित है।

गरीबी, मजबूरी और फिर दमदार ट्रेनिंग इन्हीं के इर्द गिर्द पूरी कहानी लिखी गयी है। फिल्म में मुख्य किरदार में फरहान अख्तर, मृणाल ठाकुर और परेश रावल है। फिल्म को आप अमेज़न प्राइम पर देख सकते है।

फिल्म की कहानी

पिक्चर की कहानी मुंबई शहर की है जहाँ अज्जू (फरहान अख्तर) एक गुंडा है जो वसूली का काम करता है। एरिया के लोग उस से डरते है और हर कोई उसकी सही गलत हार बात मानता है। दादागिरी दिखाकर सभी काम हो जाते है तो जिंदगी काफी आसानी से गुज़र रही है।

ऐसे में कुछ सालों में अज्जू भाई को लगता है की लोग सिर्फ उस से डरते है उसकी इज्ज़त नहीं करते है और ऐसे में इज्ज़त की खातिर वह बॉक्सिंग रिंग में हाथ आजमाने का निर्णय लेता है। उसको लगता है की जो काम मार पिटाई वो सड़क पर करता है वही चीज वो रिंग में इज्ज़त के साथ करेगा।

उसको बॉक्सिंग के लिए अनन्या (मृणाल ठाकुर) उसको उसके खेल के प्रति हमेशा मोटीवेट करती रहती है। जैसा की ट्रेलर में भी देखने को मिला था वह उसको हमेशा “अज्जू गैंगस्टर और अज्जू खिलाडी के बीच में से तुम्हे क्या चुनना है” में मदद करती है। अज्जू यहाँ से अजीज अली बन कर बॉक्सिंग में एक तूफ़ान में बदल जाता है। उसके कोच नाना प्रभु यानि परेश रावल उसको ट्रेनिंग देते है। वो अनन्या और नाना प्रभु से कैसे मिलता है यह हम नहीं बता सकते है इसके लिए आपको मूवी देखनी पड़ेगी।

हिंदी फिल्मों में हमेशा एक बात तो दिखाई देती है की जो गिरता है वो सिर्फ बेहतर जिंदगी जीने के लिए उठता है और हर लड़ाई जीतता है। यही सन्देश हमको तूफ़ान मूवी से भी मिलता है। यह पिक्चर 2 घंटे और 40 मिनट के आस पास लम्बी है जिसमे आपको कुछ अच्छे गाने भी मिलते है। निजी रूप से मुझे Toofan Title Track काफी पसंद आया है।

निष्कर्ष

भाग मिल्खा भाग के लगभग 8 साल बाद राकेश ओम प्रकाश मेहरा एक और बढ़िया कहानी के साथ तो आये है लेकिन यह उतना प्रभावित नहीं करती है जितना हम उम्मीद करते है। पिक्चर की कहानी थोडा प्रेडिक्टेबल है तथा ट्रेलर में कहानी काफी हद तक साफ़ हो चुकी थी। OTT प्लेटफार्म पर मूवी को रिलीज़ किया गया है जिस कारण इसको अच्छे व्यूज मिल सकते है।

मुख्य किरदारों ने काफी अच्छी एक्टिंग की है। फरहान, परेश रावल अपनी किरदारों में जान डालते है और इतने दिन की ट्रेनिंग को भी सही साबित करते है। मृणाल ठाकुर को स्क्रीन पर कम टाइम मिला है लेकिन उन्होंने काफी अच्छा काम किया है।

मूवी में आपको हिन्दू और मुस्लिम लड़की की प्रेम कहानी भी दिखाई देती है की हमारे समाज में अलग धर्मो में शादी करने वालो के साथ व्यवहार कैसे और किस हद तक उनको दिक्कतें देखने को मिलती है।

कुल मिलाकर हम Toofan को 3.5/5 स्टार देंगे। और घर पर कोरोना के समय अपने परिवार के साथ देखने के लिए हम इस मूवी को एक अच्छा विकल्प कहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.